क्रिकेट की दुनिया के Top 15 रिकॉर्ड, तोड़ना तो क्या कोई आस-पास भी नहीं पहुंच सकता

क्रिकेट की दुनिया के Top 15 रिकॉर्ड

Top 15 रिकॉर्ड: क्रिकेट सिर्फ एक खेल नहीं बल्कि भारतीयों के लिए एक धर्म है। सिर्फ एक नहीं, बल्कि कई क्रिकेट दिग्गज हैं, जिन पर देश ने मंथन किया है, और इन नायकों ने भारत को गौरवान्वित किया है। शायद, ऐसा कोई भारतीय नहीं है जिसने अपने बचपन के दिनों में कभी भी बैट-बॉल हाथ में नहीं उठाया हो।

क्रिकेट देश में सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला खेल है, आज क्रिकेट सचिन तेंदुलकर, कपिल देव, एमएस धोनी, विराट कोहली जैसे क्रिकेट के दिग्गजों के साथ, क्रिकेट सभी भारतीयों के दिलों में बसा हुआ है। हम सभी जानते है और देखते है, की क्रिकेट में रिकॉर्ड बनाने और तोड़ने का सिलसिला लगातार चलता रहा है, लेकिन कुछ ऐसे रिकॉर्ड भी बने हैं, जिन्हें तोड़ना लगभग नामुमकिन है। आज के इस विडियो में हम आपको कुछ ऐसे ही रिकार्ड्स के बारे में आपको बतायेगे जिन्हें आज तक कोई नही तोड़ पाया है ।

एमएस धोनी

सबसे पहले हम बात करते है, खेल खत्म करने के लिए सर्वाधिक छक्के की, जिसमे  एमएस धोनी एक ऐसे क्रिकेटर हैं जो अपनी बड़ी हिटिंग क्षमता के लिए जाने जाते हैं और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि खेल खत्म करना। जब वह इन दो विशेषताओं को एक साथ जोड़ता है, तो वह अपना अनूठा रिकॉर्ड बनाता है। धोनी के पास भारत के साथ अपने खेल करियर के दौरान 9 मौकों पर छक्कों के साथ सबसे अधिक खेल खत्म करने का रिकॉर्ड शामिल है, जो उन्हें खाफी बेहतर खिलाडी के रूप में आज पहचान दिलाता है ।

सचिन तेंदुलकर

भारतीय जिस रिकॉर्ड के बारे में डींग मारना पसंद करते हैं, उनमें से एक सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड है। महान भारतीय बल्लेबाज के नाम सबसे अधिक शतकों का रिकॉर्ड है, जिसने सभी प्रारूपों में 100 बार का आंकड़ा पार किया है। वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी रूपों में 30,000 से अधिक रन बनाने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं। 16 मार्च 2012 को, सचिन तेंदुलकर ने अपना 100 वां अंतरराष्ट्रीय शतक बनाया, जबकि उनके बाद सबसे अधिक रन बनाने की सूची में श्रीलंका के कुमार चोकशनदा संगकारा हैं और उनके रन 28016 थे।

सीधे शब्दों में कहें तो तेंदुलकर जैसा कोई दूसरा क्रिकेटर नहीं है। उनका अंतरराष्ट्रीय करियर 24 साल का रहा और उन्होंने कई रिकॉर्ड बनाए, जिसमें टेस्ट में सबसे ज्यादा 15,921 रन बनाये है ।

केएल राहुल

केएल राहुल भी आज टीम में सबसे ज्यादा पसंद किये जाने वाले खिलाडियों की सूचि में शामिल हिया । इनकी पहली पारी में पहला शतक लगाने का रिकॉर्ड है । केएल राहुल के नाम वनडे और टेस्ट दोनों में अपनी पहली पारी में शतक बनाने वाले पहले बल्लेबाज होने का रिकॉर्ड कायम किया है ।

इरफान पठान

भारतीय तेज गेंदबाज इरफान पठान ने अपने लिए एक अनोखा रिकॉर्ड बनाया जब वह एक टेस्ट मैच के पहले ओवर में हैट्रिक लेने वाले पहले खिलाड़ी बने। उनका यह रिकॉर्ड आज भी कोई नही तोड़ पाया है ।

रविचंद्रन अश्विन

रविचंद्रन अश्विन  के नाम एक अनोखा रिकॉर्ड कायम है जिसे आज तक कोई नही तोड़ पाय है । भले ही इन्होने कम मेच खेले हो लेकिन उनके नाम एक रिकॉर्ड कायम है, जो सबसे तेज 200 विकेट लेने का है ।  रविचंद्रन अश्विन 200 विकेट लेने वाले सबसे तेज गेंदबाज बन गए जब उन्होंने केवल 10291 गेंदों में मील का पत्थर पूरा किया।

वीरेंद्र सहवाग

भारत के तेजतर्रार बल्लेबाज, वीरेंद्र सहवाग एकदिवसीय मैचों में सलामी बल्लेबाज के रूप में 7,500 रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए। । सहवाग के नाम टेस्ट में तिहरा शतक और वनडे में दोहरा शतक लगाने वाले एकमात्र खिलाड़ी होने का रिकॉर्ड भी है।

ब्रायन लारा

ब्रायन लारा वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान रह चुके हैं, जिन्होंने इतिहास मैं अपने क्रिकेट की दुनिया में ऐसा नाम कमाया है, जो आज तक कोई नहीं कर पाया है जब तक वह क्रीज पर होते हैं तब तक इसको बोर्ड लगा था चलता ही रहता है । ब्रायन लारा ने साल 2004 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच में नाबाद 400 रन बनाए थे । इन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में आज तक कोई भी बल्लेबाज टेस्ट मैच में भंडारा का रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाया है ।

एबी डिविलियर्स

वेस्टइंडीज के खिलाड़ी एबी डिविलियर्स के नाम भी एक रिकॉर्ड शामिल है । उन्होंने से लेकर 30 गेंदों में शतक पूरा किया था । उस मैच में एबी डिविलियर्स ने सिर्फ 44 गेंदों में 150 रन बनाए थे उन्होंने अपनी पारी में 16 चौके और 9 छक्के जड़े थे उनकी दिल के इस पारी की वजह से दक्षिण अफ्रीका ने वेस्टइंडीज को 148 रनों से हरा दिया था उन्होंने 31 गेंदों में शतक के रिकार्ड को आज भी कायम किया हुआ है और अभी तक कोई नहीं तोड़ पाया ।

रोहित शर्मा

भारतीय सलामी बल्लेबाज और दुनिया की सबसे अच्छी हीटर के रूप में रोहित शर्मा को जाना जाता है । इनके नाम एक वनडे इंटरनेशनल मैच में 264 रनों की पारी खेलने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है, जो किसी भी बल्लेबाज द्वारा बनाया गया सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर है । यही नहीं रोहित शर्मा ने वनडे इंटरनेशनल में तीन बार दोहरा शतक लगाए हैं वह शर्मा के इस बड़े बड़े रिकॉर्ड को तोड़ना आज खिलाड़ियों के नाम उनकी ने रोहित शर्मा ने 1 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा शतक जड़े हैं, जो किसी एक विश्व कप में किसी बल्लेबाज द्वारा लगाए गए सबसे ज्यादा शतकों का रिकॉर्ड है ।

राहुल द्रविड़

राहुल द्रविड़, जिन्हें इंडियाज वॉल माना जाता है, कहा जाता है की यह काफी सुरक्षित मेच खेलते है । टेस्ट इतिहास में एकमात्र बल्लेबाज हैं जिन्होंने 30,000 गेंदों का सामना किया, कुल 31258 गेंदों के साथ अपना करियर खत्म किया।

शिखर धवन

शिखर धवन भी इस लिस्ट में शामिल है, उनके नाम टेस्ट डेब्यू पर सबसे तेज शतक लगाने का रिकॉर्ड है, उन्होंने महज 85 गेंदों में यह उपलब्धि हासिल की है।

मुथैया मुरलीधरन

श्रीलंका के गेंदबाज मुरलीधरन इंटरनेशनल क्रिकेट में कुल 13 विकेट झटके हैं इस वर्ल्ड रिकॉर्ड को तोड़ पाना किसी भी गेंदबाज के लिए आज ना मुमकिन है । मुथैया मुरलीधरन एक बेहतरीन गेंदबाज रहे उन्होंने अपने करियर में 133 टेस्ट 350 वनडे और टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं और उन सभी में कुल मिलाकर 1347 विकेट लिए हैं, जो क्रिकेट के इतिहास में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज के रूप में जाने जाते हैं । मुथैया मुरलीधरन ने टेस्ट क्रिकेट में 8 विकेट अपने नाम किए हैं ।उनके इसे वर्ल्ड रिकॉर्ड के पास पहुंचना भी खिलाड़ियों के आज बस की बात नहीं है ।

डोनाल्ड ब्रेडमैन

क्रिकेट इतिहास के सबसे महान बल्लेबाज आस्ट्रेलिया के डोनाल्ड ब्रेडमैन ने अपने जीवन में सिर्फ 52 टेस्ट मैच खेले हैं । लेकिन उन्होंने जो कर दिखाया है वह सर्टिफिकेट की जगत में और कोई भी नहीं कर पाया है, एक जिसमें उन्होंने बेहतरीन बल्लेबाजी की है उन्होंने अपने टेस्ट करियर में 6996 रन बनाए हैं इस दौरान उनका बल्लेबाजी औसत 99।94 आ रहा है, जो क्रिकेट के इतिहास में सबसे ज्यादा खूबसूरत है । इस रिकॉर्ड को तोड़ पाना वर्तमान समय में किसी भी बल्लेबाज के बस की बात नहीं है ।

मो अजहरुद्दीन

मो। अजहरुद्दीन के नाम पहली तीन पारियों में तीन शतक शामिल है। मो। अजहरुद्दीन के नाम अपनी पहली तीन टेस्ट पारियों में तीन शतक बनाने वाले एकमात्र बल्लेबाज होने का रिकॉर्ड है, जो अब तक कायम है ।

विजय हजारे

विजय हजारे के नाम एक अनोखा रिकॉर्ड कायम है, टेस्ट में मेच के दोरान लगातार दिनों पर शतक बनाने वाले एकमात्र बल्लेबाज बन गए, जिन्होंने तीसरे दिन और चौथे दिन यह उपलब्धि हासिल की है, जो अपने आप में एक अनोखी है ।

ग्रीम स्मिथ

ग्रीम स्मिथ, बतौर कप्तान 100 मैच खेलने वाला पहला खिलाड़ी है । ये रिकॉर्ड साउथ अफ़्रीका के पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ के नाम दर्ज है। स्मिथ बतौर कप्तान 100 मैच खेलने वाले दुनिया के इकलौते क्रिकेटर हैं और वो साउथ अफ़्रीका के कप्तान बनने वाले सबसे युवा क्रिकेटर भी हैं।

देखें वीडियो 

दोस्त इसके अलावा भी कई ऐसे खिलाडी है, जिन्होंने ऐसे ऐसे रिकॉर्ड कायम किये है, जिन्हें तोड़ पाना मुश्किल है । आगे के विडियो में हम आपके लिए और भी भीतर क्रिकेट से जुडी चीजे लेकर आने वाले है । आपको हमारा यह विडियो केसा लगा जरुर बताये ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top