“समय समय की बात है” IPL मे आंख दिखाने वाले कोहली हुए सूर्य के आगे नतमस्तक, देखें वायरल वीडियो

टीम इंडिया एशिया कप 2022 में सुपर-4 में पहुंचने वाली अब दूसरी टीम बन गई है। एशिया कप मे भारत ने अपने दोनों लीग मुकाबले जीत लिए हैं। एशिया कप के पहले मैच में भारतीय टीम ने पाकिस्तान और दूसरे मैच में बुधवार को हांगकांग को 40 रन से हराया। भारत की पहली पारी समाप्त होने के बाद से दुबई स्टेडियम में हॉन्ग कॉन्ग के खिलाफ कोहली का सूर्यकुमार यादव को नतमस्तक करने का वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो रहा है। पूर्व कप्तान विराट ने भी अपने साथी सूर्यकुमार यादव की सराहना की, जिन्होंने हॉन्ग कॉन्ग के खिलाफ सिर्फ 26 गेंदों में 68 रन बनाए। कोहली ने भी साथ देते हुए 44 गेंदों में 59 रन बनाए। सूर्या की पारी देखकर विराट कोहली उनके सामने नतमस्तक नजर आए। पहली पारी में एक बड़ा स्कोर खड़ा करने के बाद भारतीय टीम के गेंदबाज़ों को मिला-जुला प्रदर्शन रहा। अर्शदीप और आवेश काफ़ी महंगे रहे लेकिन हॉन्ग कॉन्ग लक्ष्य से काफ़ी पीछे रह गई। हालांकि स्पिन गेंदबाज़ों ने काफ़ी अच्छा प्रदर्शन किया और वे बढ़िया लय में नज़र आ रहे थे

सूर्यकुमार यादव को प्लेयर ऑफ़ द मैच का ख़िताब दिया गया है। मैच खत्म होने के बाद सूर्यकुमार ने कहा कि मेरे कुछ शॉट पहले से ही सोचे हुए होते हैं। साथ ही मैं उसी तरीक़े से अपनी तैयारी भी करता हूं। पिच थोड़ी सी धीमी थी। मेरा काम था कि मैं मैदान पर जाकर बड़े शॉट लगाऊं। टीम में आपको ऐसा होना पड़ेगा कि आप कहीं भी बल्लेबाज़ी कर सकें। मैंने पहले भी कई बार ऐसा किया है।

भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि हमने काफ़ी अच्छी बल्लेबाज़ी की। हालांकि हमारी गेंदबाज़ी काफ़ी बेहतर हो सकती है। सूर्या ने जिस तरीक़े की पारी खेली, वह तारीफ़ योग्य है। उन्होंने आज जिस तरीक़े के शॉट्स खेले वह किसी क्रिकेट की किताब में नहीं लिखा है। वह मैदान के चारो तरफ़ शॉट लगा सकते हैं। उनके पास जिस तरीक़े का आत्मविश्वास है, वह आराम से इस तरीक़े की पारी खेल सकते हैं। साथ ही वह एक ऐसे बल्लेबाज़ हैं जो किसी भी स्थान पर बल्लेबाज़ी कर सकते हैं।


हांगकांग टीम के निज़ाकत ख़ान कहा कि “मुझे लगता है कि पहली पारी के 13वें ओवर तक मैच हमारे कंट्रोल में था लेकिन उसके बाद भारत ने काफ़ी बढ़िया बल्लेबाज़ी की। हमारी टीम के लिए यह एक काफ़ी बढ़िया मौक़ा था। हमारे खिलाड़ियों ने इस मौक़े का फ़ायदा भी उठाया। हमें अपनी डेथ ओवर की गेंदबाज़ी पर काफ़ी काम करना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top