भारत की जीत से भी खुश नहीं हैं कप्तान रोहित शर्मा, बताई अपनी ही टीम की कमियां, ऐसा रहा तो फाइनल में पहुंचना मुश्किल

ROHIT RAHUL

कल हुए मैच मे टीम इंडिया के खिलाफ हॉन्ग कॉन्ग की टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया था। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया की शुरुआत काफी धीमी रही । भारतीय टीम ने 20 ओवर में खास तौर पर पूर्व कप्तान विराट कोहली और सूर्यकुमार यादव की अर्धशतकीय पारी बदौलत दो विकेट के नुकसान पर 192 रन बनाये। जवाब मे इस विशाल टार्गेट का पीछा करने उतरी हांगकांग की टीम अपने 20 ओवर में मात्र 152 रन ही बना सकी। भारतीय टीम यह मुकाबला 40 रन से जीत जाने के बाद सुपर-4 में जगह बना लिया है और एशिया कप मे ऐसा करने वाली दूसरी टीम बन गयी है ।

रोहित शर्मा टी20 में भारत के दूसरे सबसे सफल कप्तान बने

इस मैच मे जीत के साथ ही रोहित शर्मा टी20 में भारत के दूसरे सबसे सफल कप्तान बन गए हैं। एक भारतीय कप्तान के तौर पर रोहित शर्मा ने टी20 में 31 मैच जीत चुके हैं। 31 मैच जीतने के बाद उन्होंने विराट कोहली को पीछे छोड़ दिया है और इसके बाद महान कप्तान धोनी का रिकॉर्ड भी तोड़ सकते हैं। विराट ने 50 टी20 मैचों में भारतीय टीम की कप्तानी की थी और 30 में जीत हासिल की थी। वहीं, रोहित ने सिर्फ 37 मैचों में भारत की कप्तानी की है और 31 मैच जीत लिए हैं। धोनी की कप्तानी में भारत ने 72 टी20 मैच खेले हैं और 41 में जीत हासिल की है। अब कप्तान रोहित की निगाह मे धोनी के रिकॉर्ड तोड़ने पर होगी।

रोहित शर्मा विस्फोटक पारी खेलने वाले सूर्यकुमार की तारीफों के पुल बांधे

भारत की हॉन्ग कॉन्ग पर जीत के बाद कप्तान रोहित शर्मा ने विस्फोटक बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव की तारीफों के पुल बांधते दिखे। रोहित शर्मा ने पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में कहा,“हमने काफ़ी अच्छी बल्लेबाज़ी की। हालांकि हमारी गेंदबाज़ी काफ़ी बेहतर हो सकती है। सूर्या ने जिस तरीक़े की पारी खेली, वह तारीफ़ योग्य है। उन्होंने आज जिस तरीक़े के शॉट्स खेले वह किसी क्रिकेट की किताब में नहीं लिखा है। वह मैदान के चारो तरफ़ शॉट लगा सकते हैं। उनके पास जिस तरीक़े का आत्मविश्वास है, वह आराम से इस तरीक़े की पारी खेल सकते हैं। साथ ही वह एक ऐसे बल्लेबाज़ हैं जो किसी भी स्थान पर बल्लेबाज़ी कर सकते हैं।” मैच के बाद रोहित हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ अपनी टीम के प्रदर्शन से ज्यादा खुश नजर आए। इस पर उन्होंने कहा कि भारतीय तेज गेंदबाज बेहतर प्रदर्शन कर सकते थे फिर भी तेज गेंदबाजों ने इस मैच में जमकर रन लुटाए। अर्शदीप सिंह और आवेश खान इस मैच में काफी महंगे साबित हुए। दोनों तेज गेंदबाजो का इकोनॉमी रेट 10 से ज्यादा रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top