“KING IS BACK” विराट कोहली की गेंदबाजी देख भौचक्के रह गये हांगकांग के गेंदबाज, देखें KOHLI के गेंदबाजी की वीडियो

“KING IS BACK”

ग्रुप ए मे एशिया कप के दूसरे मैच में भारत ने हांगकांग को 40 रनों से एक तरफा मैच मे हराकर लगाता दूसरी जीत दर्ज कर ली है। टीम इंडिया ने इस जीत के साथ ही टीम ने सुपर चार में अपनी जगह बना ली है। इस मैच में विराट कोहली और सूर्यकुमार यादव की विस्फोटक साझेदारी का अद्भुत नजारा देखने को मिला। काफी समय के बाद विराट कोहली के बैट से विस्फोटक तरीके से रन निकले तो दूसरी तरफ सूर्यकुमार यादव की भी आतिशी पारी ने हर किसी को रोमांचित कर दिया ।

हार्दिक पांड्या की जगह विराट ने किया एक ओवर गेंदबाजी

कोहली 59 रन और सूर्यकुमार यादव 68 रन पर नाबाद लौटे। लक्ष्य का पीछा करते हुए हॉन्ग कॉन्ग की टीम 5 विकेट पर 152 रन ही बना सकी। विशाल टार्गेट का पीछा करते समय हॉन्गकॉन्ग की ओर से बाबर हयात ने सबसे ज्यादा रन बनाए। उन्होंने 35 गेंदों में 41 रन की पारी खेली। अपनी पारी में उन्होंने तीन चौके और दो छक्के लगाए। इंडिया की तरफ से गेंदबाजी करते हुए भुवनेश्वर कुमार, अर्शदीप सिंह, रवींद्र जडेजा और आवेश खान को एक-एक विकेट मिला । भारतीय टीम ने इस मैच में हार्दिक पांड्या को रेस्ट दिया गया उनके स्थान पर ऋषभ पंत को टीम मे जगह मिली । कप्तान रोहित शर्मा ने छठे गेंदबाज के रूप मे पूर्व कप्तान विराट कोहली को गेंद थमाई।

6 साल बाद गेंदबाजी मे विराट ने अपने हाथ आजमाए

हांगकांग के खिलाफ बल्लेबाजी में रंग जमाने के बाद विराट कोहली ने 6 साल बाद गेंदबाजी में भी अपना हाथ आजमाया. विराट कोहली ने हांगकांग के विरुद्ध मैच के 17 ओवर में गेंदबाजी की. केवल एक ओवर की गेंदबाजी मे विराट ने 6 रन दिए. इस मैच से पहले अंतिम बार विराट कोहली ने साल 2016 में वेस्टइंडीज के विरुद्ध गेंदबाजी किया था . उस मैच में कोहली ने 1.4 ओवर की गेंदबाजी के दौरान 15 रन देकर एक विकेट चटकाए थे. लेकिन भारत वह मैच 7 विकेट से हार गया । पूरे क्रिकेट कैरियर के दौरान विराट कोहली ने अपने 101 टी20 मैचों में 12 बार गेंदबाजी की है और 4 विकेट चटकाए हैं. विराट का गेंदबाजी अब तक का टी20 मे सर्वोत्तम प्रदर्शन 15 रन देकर 1 विकेट है इंग्लैंड के विरुद्ध साल 2011 में उन्होने गेंदबाजी से यह प्रदर्शन किया था. वनडे क्रिकेट में भी विराट कोहली के नाम 4 विकेट हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top