‘तुम्हें शर्म आनी चाहिए, देशद्रोही’, इस भारतीय खिलाडी को श्रीलंका का झंडा फहराना पड़ा भारी, भड़के फैंस

श्रीलंका का झंडा फहराना पड़ा भारी

एशिया कप 2022 के फाइनल मैच में टॉस हारकर श्रीलंका ने पहले बेटिंग करते हुए 170 रन बनाए और इसके जवाब में पाकिस्तानी की टीम पुरे 20 ओवर में महज 147 रनों पर सिमट गई. मुश्किल से घिरी श्रीलंका की टीम एक समय अपने 5 विकेट महज 58 रन पर खो दिए थे लेकिन इसके बाद आल राउंडर हसारंगा और भानुका राजपक्षे ने एक साझेदारी कर श्रीलंका टीम को संकट से उबारा. इस मैच में आल राउंडर हसारंगा ने 21 गेंदों में 36 रन बनाए. वहीं दूसरी और राजपक्षे ने 45 गेंदों में 71 रन बनाए. आपको बता दें इस मैच में पूर्व इंडियन खिलाड़ी गौतम गंभीर भी कमेंट्री कर रहे थे. मैच खत्म होने के तुरंत बाद ही गौतम गंभीर मैदान पर आए और श्रीलंका का झंडा फहराया. पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर का ये वीडियो सोशल मीडिया पर अब जमकर वायरल होने लगा है. वीडियो को देखने के बाद लोगों का गुस्सा सोशल मीडिया में गौतम गंभीर पर फूटने लगा है

कमेंट्री के दौरान गौतम गंभीर ने श्रीलंकाई टीम पर किया था सख्त टिपण्णी

श्रीलंका के पत्रकार अजाम अमीन ने ट्वीट में लिखा है कि “पूर्व भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर ने कुछ प्रसंशकों द्वारा कमेंट्री के दौरान उनके द्वारा की गई टिप्पणियों पर आलोचना करने के बाद श्रीलंका की जीत का जश्न मनाते हुए श्रीलंकाई झंडे को लहराया.” इस वीडियो को ट्वीट करते हुए श्रीलंकाई पत्रकार ने दावा किया है कि मैच से पहले गौतम गंभीर ने कमेंट्री के दौरान श्रीलंकाई टीम पर कुछ सख्त टिप्पणियां की थी जिससे क्रिकेट फैंस काफी नाराज थे. इस बात का पछतावा होने पर गौतम गंभीर ने श्रीलंकाई फैंस को खुश करने के लिए श्रीलंका देश का झंडा फहराया ” इस वीडियो पर गौतम गंभीर को जमकर खरी खोटी सुनाते हुए एक यूजर ने कमेंट करते हुए लिखा,तो संवैधानिक पद पर रहकर कमेंट्री करो और दूसरे देश का झंडा उठाओ. शर्म आनी चाहिए. देश द्रोही कहीं के. बड़े बेशर्म हैं दिल्ली वाले भी, सांसद हमेशा गायब रहता है कोई फर्क ही नहीं पड़ता Constituency में सारे अंधभक्त हैं क्यां”

“गौतम गंभीर को कुछ भी कहने से पहले दो बार सोचना चाहिए “

श्रीलंकाई फैंस ने इस वीडियो पर कमेंट किया है कि “गौतम गंभीर को अपनी बात कहने से पहले दो बार सोचना चाहिए. हालांकि भारतीय फैंस ने गौतम गंभीर का साथ देते हुए कहा कि वो हमेशा से चाहते थे कि पाकिस्तान को हार ही मिले. इसलिए श्रीलंका का झंडा फहराने में उन्हें कोई दिक्कत नहीं है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top