जीत के बाद लोकेश राहुल का छलका दर्द, बोले पूरी जिंदगी में मैंने ऐसा नहीं देखा

rahul

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीन टी20 सीरीज खेले जा रहे हैं। जिसमें इन दोनों टीमों के बीच कल पहला मुकाबला खेला गया। टीम इंडिया ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज बल्लेबाजी के लिए मैदान पर उतरते हैं। इनकी टीम की शुरुआती बल्लेबाजी बेहद खराब साबित होती हैं। इन्होंने निर्धारित 20 ओवर में आठवीं के होते हुए 106 रनों के लक्ष्य को टीम इंडिया के सामने रखते हैं।

जवाब में टीम इंडिया इस लक्ष्य को 16.4 ओवर मे 2 विकेट के नुकसान पर प्राप्त कर लेती है। इस मैच को जिताने में सुर्य कुमार यादव और केएल राहुल ने अहम भूमिका निभाई। ‌ सूर्यकुमार यादव 35 गेंदों में 50 रनों की पारी खेलते हैं। वही केएल राहुल 51 रनो की।

केएल राहुल ने पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन में कहते हैं कि,

“निश्चित रूप से, ऐसा ही था (सबसे कठिन पिच के रूप में)। हम इस तरह की कुछ कठिन परिस्थितियों में खेले हैं लेकिन मुझे रन नहीं मिले हैं, इसलिए यह कड़ी मेहनत थी। सूर्या के लिए मैदान में आना और उन शॉट्स को खेलना अविश्वसनीय था, हमने देखा है कि कैसे गेंदें उड़ रही थीं, चारों ओर घूम रही थीं, दो-गति और वह सब कुछ जो एक बल्लेबाज के लिए कठिन हो सकता है वैसा हुआ। जो आज का विकेट था, और सूर्या के लिए उसके साथ आना। पहली गेंद के बाद, जो उसे लगी, उसके बाद वह बस उठा और अपने शॉट्स खेले, बेहद शानदार रहा।”

सूर्या की पारी से मिला राहुल को समय

केएल राहुल ने आगे कहा,

“इससे मुझे अपना समय निकालने और एक छोर पर खेलने में मदद मिली। (उम्मीद है कि इतनी मदद) इतना नहीं। हमने कल यहां अभ्यास किया था और यह एक सुखद अनुभव भी था, हम सभी मानसिक रूप से तैयार थे क्योंकि यह एक आसान विकेट नहीं था और मैं अपना काम करने के लिए तैयार था, चुनौती के लिए तैयार था और काम पूरा करने के लिए तैयार था।”

केएल राहुल ने अर्शदीप सिंह की तारीफ करते हुए कहा कि

“वह (अर्शदीप) प्रत्येक खेल के साथ आगे बढ़ रहा है और प्रत्येक आउटिंग के साथ वह बेहतर होता जा रहा है, वह ऐसा व्यक्ति है जिसका दिल बड़ा है और मैंने उसे आईपीएल में खेलते हुए करीब से देखा है। इस सीजन में उन्होंने अपनी फ्रेंचाइजी के लिए जो किया वह अभूतपूर्व था और रबाडा की टीम में नंबर एक डेथ बॉलर बनना उनके बारे में बहुत कुछ कहता है। हम हमेशा बाएं हाथ का तेज गेंदबाज चाहते हैं और अर्शदीप जैसा खिलाड़ी होना बहुत अच्छा है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top