यह पांच खिलाड़ी लड़ाई के कारण छोड़े थे आईपीएल, सब एक से बढ़के एक, दो भारतीय भी शामिल

ipl

आईपीएल होने के बाद दुनिया भर में बहुत प्रकार के लीग की शुरुआत हो चुकी है। आईपीएल को देखकर हर देश अपना अलग -अलग लीग बना ली है। लेकिन सभी लीग आईपीएल जितना प्रसिद्ध नहीं है। आईपीएल दुनिया में नंबर वन लीग है। आईपीएल में देश के साथ-साथ विदेशी खिलाड़ी भी भाग लेते हैं। आईपीएल में खिलाड़ियों को फ्रेंचाइजी द्वारा खरीदा जाता है। कभी-कभी खिलाड़ी आवाज फ्रेंचाइजी में बहस होने के कारण आगे चलकर लड़ाई का रूप ले लेती है। आज हम उन खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे जो फ्रेंचाइजी से लड़ चुके हैं।

1-सनराइज हैदराबाद के डेविड वॉर्नर 2021

ऑस्ट्रेलिया का यह बल्लेबाज काफी लंबे समय से सनराइज हैदराबाद की टीम में बल्लेबाजी करता हुआ नजर आ रहा है। इनकी अगुवाई के दौरान टीम ने 2016 में आईपीएल खिताब अपने नाम की थी। इन्होंने आईपीएल में कई बार ऑरेंज कप अपने नाम कर चुके हैं। 2021 के सीजन में छह मैचों में से पांच मैच हारने के बाद इन्हें कप्तानी से हटा दिया गया था। इसके बाद ही नहीं प्लेइंग इलेवन के स्क्वाड से हटा दिया गया था। उस सीजन में वॉर्नर ने 8 मैचों में 195 रन बनाए थे। जिसके बाद डेविड वॉर्नर को दिल्ली कैपिटल ने खरीद लिया। दिल्ली कैपिटल में वॉर्नर ओपनिंग बल्लेबाजी करते हुए नजर आते हैं।

2-चेन्नई सुपर किंग्स के सुरेश रैना

काफी लंबे समय से सुरेश रैना चेन्नई सुपर किंग के प्लेइंग इलेवन में शामिल थे। इन्होंने चेन्नई सुपर किंग के लिए बहुत से जिताऊ पारी खेले हैं। तथा खिताब जिताने में भी इन्होंने अहम भूमिका निभाए हैं। इनको mr.ipl के नाम से जाना जाता है। 2020 में इन्होंने कुछ समस्याओं के कारण टीम में नहीं खेले थे जिस कारण सोशल मीडिया पर बहुत से अफवाह भी फैलाए गई थी। लेकिन 2021 में इन्होंने अपने टीम के लिए बल्लेबाजी की थी। लेकिन इनके बल्लेबाजी क्रम बदल चुका था। 2022 के सीजन में फ्रेंचाइजी ने इन्हें नहीं खरीदा।

3-कोलकाता नाइट राइडर्स के सौरव गांगुली

सौरव गांगुली कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए पहले सीजन में टीम की अगुवाई को संभाले थे। कई कप्तानों के अदला-बदली में टीम का काफी नुकसान देखने को मिलता है। जिसके बाद तीसरे सीजन में फिर से सौरव गांगुली को टीम का कप्तान बना दीया जाता है।

4-रॉयल चैलेंजर बेंगलुरु के क्रिस गेल

क्रिस गेल 2011 से लेकर बहुत समय तक रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु टीम के हिस्सेदारी में थे। जब इन्होंने आईपीएल में 175 रनों की धुआंधार पारी खेली थी। तो फ्रेंचाइजी के द्वारा इन्हें बहुत पसंद किया जाता था। 2017 के सीजन में क्रिस गेल ने 9 पारियों में केवल 200 रन ही बनाए थे। फ्रेंचाइजी के द्वारा इन्हें टीम में मौका नहीं मिलता है। इनका इनका चयन पंजाब में होता है।

5-चेन्नई सुपर किंग के रविंद्र जडेजा

सीजन 2022 में चेन्नई सुपर किंग की कप्तानी रविंद्र जडेजा के हाथों में सौंपी गई थी। इनको कप्तानी सौंपने से टीम को काफी नुकसान होता है। जिसके बदौलत इनसे कप्तानी छीन ली जाती है और दोबारा से कप्तानी महेंद्र सिंह धोनी के हाथों में सौंप दी जाती है। 2022 का सीजन समाप्त होने के बाद रविंद्र जडेजा ने अपने स्टाग्राम अकाउंट से सीएसके से जुड़ी सभी तस्वीरों को डिलीट कर देते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top