“हर कोई धोनी नहीं बन सकता” रविंद्र जडेजा की एक छोटी सी गलती से चेन्नई ने गंवाया जीता हुआ मैच, खतरे में कप्तानी

आईपीएल 2022 जिसका धमाल लगातार चालू है, बता दे आपको की गुरुवार, 31 मार्च को चेन्नई सुपर किंग्स और लखनऊ सुपरजायंट्स के बीच मुंबई के ब्रेबोर्न स्टेडियम में इस संस्करण का सातवां मैच खेला गया। जो की बेहद रोमांचक रहा महज कुछ गलतियों के वजह से मैच CSK की टीम हर गई।

मैच डिटेल्स 

जहाँ तक पहले बल्लेबाज़ी करने उतरी चेन्नई सुपर किंग्स के लिए पारी की शुरुआत सीनियर बल्लेबाज़ रॉबिन उथप्पा और ऋतुराज गायकवाड़ ने की. रॉबिन उथप्पा ने ताबड़तोड़ बल्लेबाज़ी करते हुए 27 गेंदों में 1 छक्के और 8 चौकों के साथ 50 रनों की शानदार अर्धशतकीय पारी खेली. इसके अलावा युवा ऑलराउंडर शिवम दुबे ने भी 30 गेंदों में 49 रनों की बेहतरीन पारी खेली. मोईन अली ने 35 और अंबाती रायडू ने भी 27 रनों की अहम पारियाँ खेली.

फ्लॉप रहे गायकवाड़ 

बात करे ऋतुराज गायकवाड़ जिससे चेन्नई की टीम को काफी उम्मीदे रहती है और वो उस उम्मीदों पर खरे अब तक नहीं उतर पाएं है। दूसरे मैच में भी वो कुछ खास नहीं कर पाएं। और महज एक रन बनाके रन आउट होके पवेलियन लौट गए।

लखनऊ की तरफ़ से गेंदबाज़ों के प्रदर्शन की बात करें तो आवेश खान, एंड्रयू टाई और रवि बिश्नोई ने 2-2 विकेट चटकाए थे. हालांकि दुशमंथ चमीरा थोड़े महंगे साबित हुए और उनके 4 ओवर के स्पेल में कुल 49 रन पड़े. इसके अलावा क्रुणाल पांड्या ने भी 3 ओवर में 36 रन लुटाए.

लखनऊ की टीम ने दिया मुँह तोड़ जवाब 

दूसरी पारी में लक्ष्य का पीछा करने उतरी लखनऊ की टीम को कप्तान केएल राहुल और विकेटकीपर-बल्लेबाज़ क्विंटन डी कॉक की सलामी जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 99 रन जोड़ कर शानदार शुरुआत दिलाई. क्विंटन डी कॉक ने 61 रनों की शानदार अर्धशतकीय पारी खेली तो वहीं एविन लुइस ने 55 और कप्तान केएल राहुल ने भी 40 रन की पारियाँ खेली.
चेन्नई के गेंदबाजों की हुई काफी पिटाई 

चेन्नई की तरफ़ से दूसरी पारी में सभी गेंदबाज़ महंगे साबित हुए. विकेट्स की बात करें तो ड्वेन प्रिटोरियस ने 4 ओवर में 31 रन देकर 2 विकेट चटकाए. इसके अलावा 4 ओवर में 40 रन देने वाले तुषार देशपांडे और 4 ओवर में 35 रन देने वाले ड्वेन ब्रावो को सिर्फ़ 1-1 विकेट मिला. अपने बल्लेबाज़ों के शानदार प्रदर्शन के दम पर लखनऊ की टीम ने इस लक्ष्य को 4 विकेट के नुकसान पर 19.3 ओवरों में हासिल कर लिया.

आलोचनाओं में घिरी जडेजा की कप्तानी 

रविंद्र जडेजा ने इस मैच के दौरान बेहद खराब कप्तानी की, अंत तक मैच में चेन्नई सुपर किंग्स की पकड़ बनी हुई थी, लेकिन जैसे ही कप्तान जडेजा ने शिवम दुबे को 19वां ओवर सौंपा मैच चेन्नई के हाथ से निकल गया इसी ओवर में शिवम दुबे ने 25 रन लुटा डाले. जबकि कप्तान के पास खुद का और मोईन अली का ओवर बचा हुआ था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top