ऐसे 5 खिलाड़ी जिन्होंने बिच मैदान पर ही तोड़ा दम, दो भारतीय शामिल

khiladi

दोस्तों हम सभी जानते है, की क्रिकेट का जन्म तो इंग्लैंड में हुआ लेकिन इसके फेंस आपको दुनिया के और देशों के मुकाबले भारत में सबसे ज्यादा देखने को मिल जाएगी और शायद इसीलिए यह कहावत भी कही जाती है, की भारत से अंग्रेज तो चले गए लेकिन वे अपना क्रिकेट छोड़ गये I जिस वजह से आज भारत का राष्ट्रीय खेल हॉकी होते हुए भी लोगों की बजाय क्रिकेट खेलना ज्यादा पसंद करते हैं I हालांकि क्रिकेट जितना फेमस होता है यह जिस तरह से लोगों को पसंद होता है उसी तरह से इसमें रिस्क भी शामिल होता है I

ऐसे खिलाड़ी जो दुनिया को रुला दिया 

क्रिकेट में भी गंभीर चोट लगने की वजह से बहुत सारे खिलाड़ी का क्रिकेट का करियर समाप्त हो जाता है I आज की इस वीडियो में हम कुछ एसे क्रिकेट खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे जिनकी क्रिकेट खेलने के दौरान मैदान में ही दर्दनाक मौत हो गई I कई बार देखा है कि खिलाड़ी को चोट लगने के बाद वह सही हो जाते हैं और दोबारा मैदान में खेलने के लिए आ जाते हैं, लेकिन आज हम जिनके बारे में बता रहे हैं उनकी क्रिकेट मैच के मैदान में ही मौत हो गई थी I इसके बाद पक्का भी इस क्रिकेट मैच को नहीं खेल पाए I

सबसे पहले हम आपको बता दे की, भारत के पूर्व होनहार क्रिकेटर रमन लांबा के बारे में I इनका जन्म 2 जनवरी 1960 को उत्तर प्रदेश के मेरठ में हुआ था I रमन लांबा को 1986 ऑस्ट्रेलिया कप में भारतीय टीम में सेलेक्ट किया गया था I जहां उन्होंने अपना परिचय कुछ अलग ही अंदाज में दिया था I उस टेस्ट मेच के दोरान उन्होंने कपिल देव की गेंद पर अब्दुल कादिर का बहुत ही शानदार कैच लेकर अपना हुनर दिखाया था I  उनके क्रिकेट की शुरुआत काफी बेहतर रही उन्होंने पहले ही मैच में 64 रन बनाए और अपने छठे मैच में उन्होंने 104 रन बनाए I उन्हें इस मैच में बेहतरीन प्रदर्शन के लिए मैन आफ द मैच भी चुना गया था उन्होंने भारतीय टेस्ट क्रिकेट में कुल 4 मैच खेले जिसमें उन्होंने 104 की औसत से रन बनाए I

ऐसे 5 खिलाड़ी जिन्होंने बिच मैदान पर ही तोड़ा दम, दो भारतीय शामिल

अब हम आपको बताते हैं कि इन खिलाड़ी का क्रिकेट का अंत कैसे हुआ I हम बात कर रहे हैं 1976 की जिसमें बांग्लादेश के खिलाफ बांग्लादेश के ढाका में एक मैच खेला गया था I जिसमें वह बेस्टमैन के पीछे बिना हेलमेट से क्लिपिंग करते हुए देखे गए थे I उन्हें बिना हेलमेट के इस तरह से फील्डिंग करने की आदत हो चुकी थी I लेकिन उस दिन जब बॉल उनके करीब आई तो सीधा उनको सर में जा लगी उसके बाद वह मैदान पर ही गिर गए I

उस समय उनसे जब उनके कप्तान द्वारा पूछा गया कि वह ठीक है तो उन्होंने उस समय तो कह दिया कि मैं मर ही गया है, लेकिन उस समय उनकी स्थिति थोड़ी बेहतर थी, लेकिन जब उन्हें अस्पताल ले जाया गया तो पता चला कि उनके सिर में अंदरूनी ब्लीडिंग हो रही है जिसकी वजह से वह कोमा में चले गए और 1998 में उनकी कुमार की वजह से मौत हो गई I इस तरह से रमन सिंह का कैरियर यहीं खत्म हो गया और वह इस दुनिया को छोड़ कर चले गए I

दूसरे नंबर पर हैं ऑस्ट्रेलिया के पूर्व धुरंधर बल्लेबाज फिलिफ ह्यूज का जन्म 30 नवंबर 1988 को हुआ था I यह ओपनिंग बल्लेबाज के रूप में जाना जाते थे, 20 साल की उम्र में ही उन्होंने खेलना शुरू शुरू कर दिया था I

ऑस्ट्रेलिया के उभरते हुए बल्लेबाज के रूप में जाने जाते थे I उन्होंने अपने क्रिकेट की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में मात्र 19 साल की उम्र में खेलना शुरू कर दिया था, जिसके बाद वह काफी जाने-माने क्रिकेटर के रूप में नजर आए I इसका प्रमाण ने अपने दूसरे टेस्ट में ही दे दिया था I जिसमे दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलते हुए उन्होंने अपने टेस्ट मैच में 104 रन बनाकर शतक बनाया था वह उस समय सबसे कम उम्र में शतक लगाने वाले बल्लेबाज के रूप में जाने गए I

फिलिफ ह्यूज ने अपने क्रिकेट करियर के दौरान ऑस्ट्रेलिया की तरफ से कुल 26 टेस्ट खेले जिसमें उन्होंने तीन शतक और 7 अर्धशतक लगाए I इसके साथ ही उन्होंने 25 वनडे मैचों में 826 रन बनाए और इस तरह से उनका कैरियर काफी शानदार चल रहा था I लेकिन 27 नवंबर 2014 को इस खिलाड़ी ने दुनिया को अलविदा कह दिया था। घरेलू मैच के दौरान सीन एबॉट की बाउंसर गेंद उनके गर्दन के हिस्से पर लगी और उनके दिमाग में खून का बहाव रुक गया। वो बीच मैदान बुरी तरह से घायल हो गए। उन्हें अस्पताल ले जाया गया लेकिन, उनकी जान नहीं बचाई जा सकी डॉक्टर ने बताया कि उनके सर की हड्डी में फैक्चर हुआ है और उनके मस्तिष्क की नस फट चुकी थी I

अब हम आपको इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर के बारे में बताने जा रहे हैं जिनकी भी दुखद घटना क्रिकेट मैच खेलने के दौरान हुई I इयोन फुली जिनका जन्म 9 जनवरी 1963 को हुआ था इI उन्होंने 1983 में अपने तेज गेंदबाज के रूप में अपने क्रिकेट की शुरुआत की I इसमे उन्होंने कई तरह के घरेलू क्रिकेट मेच खेले I उनके शानदार प्रदर्शन को लेकर वह इंग्लैंड की टीम में शामिल होने का सपना देखते थे I उनका इंग्लैंड की टीम में सिलेक्शन होना लगभग पक्का हो गया था, क्योंकि उनका प्रदर्शन काफी बेहतर था I लेकिन सिलेक्शन होने से पहले ही वह 1 दिन 1993 में घरेलू मैच खेल रहे थे I उस दौरान एक तेज गेंद उनकी आंखों के नीचे लगी जिसके बाद वह वहीं बेहोश हो गए और उपचार के दौरान उन्हें जब अस्पताल ले जाया गया तो, वहां पर उन्हें दिल का दौरा पड़ा और उनकी मौत वही हो गई इस तरह से इनके बेहतरीन क्रिकेट कैरियर का अंत हो गया I जब उनकी मृत्यु हुई तो उस समय उनकी उम्र महज 30 साल थी इस 30 साल के क्रिकेटर का अंतर इतना दुखद होगा यह किसी ने सोचा ही नहीं था I

एक ऐसा ही वाकया पाकिस्तान की एक टीम के खिलाड़ी के साथ हुआ था I Zulfiqar Bhatti  पाकिस्तान के युवा क्रिकेटर की मौत छाती पर गेंद लगने के कारण हुई थी। ज़ुल्फिकर भट्टी ने जब दुनिया को अलविदा कहा तब वो महज 22 साल के थे। युवा पाक क्रिकेटर के निधन के बाद पाकिस्तान क्रिकेट में कई दिनों तक मातम पसरा हुआ था I साल 2013 में पाकिस्तान के सिंध प्रांत के चुरू जिले में बेगम खुर्शीद मेमोरियल T20 टूर्नामेंट खेला जा रहा था इसी दौरान एक मैच में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी कर रहे थे कि उनकी मौत हो गई I  उसी समय एक गेंद उनके सीधे सीने पर लगी और उसके बाद उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया लेकिन अस्पताल ले जाने के बाद उन्हें उसी समय तुरंत मृत घोषित कर दिया गया I इनकी इस तरह से दुखद निधन के बाद पूरे शहर में 3 दिनों के लिए खेल गतिविधियों पर रोक लगा दी गई और इनकी मौत पर शोक मनाया गया I

पाकिस्तानी के एक और खिलाड़ी अब्दुल अजीज की भी मौत मैदान पर गेंद के लगने के कारण हुई थी। मैच के दौरान बॉल उनके दिल के पास जा लगी थी। जब वो बल्लेबाजी कर रहे थे तब उनके साथ यह दर्दनाक घटना घटी और जैसे ही गेंद लगी उसके कुछ पल बाद वो नीचे गिर गए और उनकी मौत हो गई।

वही एक और खिलाड़ी इंग्लैंड के क्रिकेटर रिचर्ड बैमोंट भी मेच खेलने के दोरान मोट का शिकत हो गये I जब काउंटी चैंपियनशिप का मैच खेल रहे थे तब उन्हें हार्ट अटैक आया था। 33 साल के रिचर्ड बैमोंट हार्ट अटैक को झेल ना सके और उनकी मौत हो गई। गौर करने वाली बात यहै कि जिस मैच में उनकी मृत्यु हुई उस मैच में उन्होंने 5 विकेट लिए थे।

इस तरह से कई खिलाड़ी है जो क्रिकेट के दोरना मोट के आगोश में आ गये है I क्रिकेट के मैदान पर सिर्फ खेल ही नहीं हादसे भी होते हैं। क्योंकि यह खेल जितना रोमांचक और मजेदार है, उतना ही जानलेवा और खतरनाक भी यह हमने आपको आज के इस विडियो में बताया है I यह पूरा खेल अनिश्चितताओं का है। इसमें खिलाड़ियों को चोट लगने का क्ख्त्र काफी ज्यादा होता है I मैच के दौरान खिलाड़ी की मौत फैंस, परिवार समेत सभी को दुखी कर जाती है I तो दोस्तों आज का हमारा यह विडियो यदि आपको पसंद आया है तो हमारे चेनल को सब्सक्राइब करना ना भूले हम आपके लिए इससे भी बेहतर विडियो लेकर आने वाले है I

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top