इन तीन खिलाडियों की है अग्निपरीक्षा, नहीं तो बाहर हो सकते है वर्ल्ड कप से

भारत और पाकिस्तान

टी-20 विश्व कप के लिए सोमवार को टीम इंडिया के स्क्वाड का ऐलान कर दिया गया है। देश में ऐसे कई खिलाड़ी शामिल है जो भाग्यशाली हैं। अर्थात उन्होंने एशिया कप 2022 में खराब प्रदर्शन के बाद भी उन्हें यह अवसर मिला है।

लेकिन कई खिलाड़ी ऐसे ही में मौजूद थे। जिन्होंने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिया था, फिर भी मौका नहीं मिला है। इस लिस्ट में श्रेयस अय्यर, संजू सैमसन, रवि बिश्नौई जैसे कई खिलाडी शामिल है। वर्तमान समय में ऋषभ पंत लंबी पारी खेलने के लिए जूझ रहे हैं। लेकिन इन्हें वर्ल्ड कप के हिस्से में लिया गया है।

आज हम ऐसे तीन खिलाड़ियों के नाम बताएंगे। जिन्होंने एशिया कप 2022 में खराब प्रदर्शन किया है। लेकिन फिर भी उन्हें टी-20 विश्व कप में जगह मिला है।

इस लिस्ट में पहले नंबर पर ऋषभ पंत मौजूद हैं। ऋषभ पंत एक सफल बल्लेबाज है लेकिन क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में उतनी अच्छी पारी नहीं खेल पाते हैं। उन्होंने अब तक 58 टी20 मैच खेले है और 23.94 की औसत से केवल 934 रन बनाए है, जो कि एक फिनिशर के तौर पर बेहद खराब आंकडे है।

इसे कप 2022 में इनको अधिकतर मैचों में मौका दिया गया है लेकिन यह अपने आप को लोगों के सामने प्रदर्शित नहीं कर पाए है। तथा इसे के साथ इनको टी20 विश्व कप में भी मौका दिया गया है। इसी से पंत अपने आपको एक भाग्यशाली खिलाडी जरुर समझेंगे।

इस लिस्ट को दूसरे नंबर पर रविचंद्र अश्विन का नाम आता है। रविचंद्र अश्विन टीम इंडिया के एक सफल गेंदबाज है। अश्विन की गेंद कभी-कभी इस प्रकार फेकते है कि बल्लेबाज से चकमा खा जाता है। हालांकि रविचंद्रन अश्विन की जगह रवि बिश्नोई ने शानदार प्रदर्शन किया है लेकिन इनको टीम में जगह नहीं मिला है। अश्विन ने भारत के लिए 56 T20I मैच खेले हैं और इस प्रक्रिया में 66 विकेट लिए हैं। जो कि एक खास आंकडा नहीं है।

वहीं तीसरे नंबर पर अक्षर पटेल विराजमान है। वर्तमान समय में रविंद्र जडेजा के घुटने में चोट लगने के कारण वह टी-20 विश्वकप से बाहर है। अक्षर पटेल ने भारत के लिए 26 टी20 खेले है, जिसमें उन्होंने महज 21 विकेट लिए है। अक्षर पटेल बल्ला चलाना भी जानते है, हालांकि बल्ले से अभीतक सर्वश्रेष्ठ पारी आना बाकी है। लेकिन अक्षर पटेल को भाग्य का साथ मिला और उन्होंने अपनी जगह टी20 विश्वकप में बना ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top