टीम में नहीं मिला मौका नहीं तो युवराज , हार्दिक से ज्यादा खतरनाक खिलाडी था ये आल राउंडर, अब जिम्बाम्बे में जाकर मचा रहा तबाही

sikanadar raja

जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम इस समय बांग्लादेश के खिलाफ तीन एकदिवसीय मैच सीरीज खेलने में व्यस्त है । वैसे इस एकदिवसीय सीरीज में जिंबाब्वे का प्रदर्शन बांग्लादेश के खिलाफ काबिले तारीफ़ रहा है जिम्बाब्वे की टीम पिछले कई महीने से बहुत सी सीरीज जीतने में सफल रही है । जिम्बाब्वे की टीम को कई मैच जिताने में उसके एक आल राउंडर का सहयोग सबसे ज्यादा है। वह गेंद और बल्ले दोनों से विपक्षी टीम के लिए खतरा बन चुका है। यह युवा खिलाड़ी जिंबाब्वे की जीत में अपना बेस्ट योगदान दे रहा है। इस खिलाड़ी की प्रतिभा को देखकर के लोग जिंबाब्वे के लिए हार्दिक पांड्या और युवराज सिंह से भी खतरनाक क्रिकेटर मान चुके हैं । इस खिलाड़ी के प्रदर्शन के बल पर ही बांग्लादेश की टीम जिंबाब्वे के सामने कहीं भी नहीं टिक पा रही है ।

सिकंदर रजा ने लागतार 2 मैच में शतक जमाकर एक खास रिकॉर्ड अपने नाम किया

हम बात कर रहे जिंबाब्वे के एक बेहतरीन युवा ऑलराउंडर जिसका नाम है सिकंदर राजा । इस खिलाड़ी ने बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे वनडे मैच में भी एक बार फिर विस्फोटक शतक लगाया है । इस कारण से इसके चर्चे विश्व क्रिकेट में हो रहे हैं । दूसरे वनडे मैच में उसने पहले गेंदबाजी करते हुए 10 ओवर में 56 रन देकर तीन विकेट भी लिया फिर बल्लेबाजी करते हुए शानदार शतक भी लगाया सिकंदर रजा ने लागतार 2 मैच में शतक जमाकर एक खास रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज कर लिया है. रजा, ब्रेंडन टेलर के बाद लगातार 2 मैच में वनडे शतक जमाने वाले जिम्बाब्वे के पहले खिलाड़ी बने हैं. बता दें कि रजा ने 2022 में वनडे में 78.66 की औसत और 90 से ज्यादा स्ट्राइक रेट से 472 रन बनाए हैं.

साल 2013 के बाद बांग्लादेश के खिलाफ जिम्बाब्वे ने टी-20 सीरीज जीता, युवराज हार्दिक से हो रही तुलना 

बांग्लादेश के खिलाफ वनडे सीरीज में रजा ने लगातार 2 मैच में लक्ष्य का पीछा करने हुए शतक जमाया और साथ ही अपनी टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई. बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे वनडे मैच में सिकंदर रजा ने नाबाद 117 रन की पारी खेली और टीम को जीत दिलाई. इससे पहले वनडे में रजा ने नाबाद 135 रन बनाकर टीम को जीत दिलाई थी । रज़ा की शानदार फॉर्म के कारण जिम्बाब्वे की टीम बांग्लादेश के खिलाफ टी-20 सीरीज को जीताने में मदद की, साल 2013 के बाद पहली बार ऐसा हुआ जब बांग्लादेश के खिलाफ जिम्बाब्वे टी-20 सीरीज जीतने में सफल रही है.

पाकिस्तान टीम मे जगह ना मिलने के कारण जिम्बाब्वे पहुंचे सिकंदर रजा

सिकंदर रजा का जन्म पाकिस्तान में हुआ था और अंडर-19 क्रिकेट भी उन्होंने पाक की टीम के लिए खेला है, लेकिन जब सिकंदर को पाकिस्तान के लिए नेशनल टीम में खेलने का मौका नहीं दिया गया तब वो अपना देश छोड़कर जिम्बाब्वे पहुंच गए। उसके बाद से जिम्बाब्वे के लिए खेलते हुए उन्होंने गेंद और बल्ले दोनों से धमाल मचाना शुरू कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top