10 साल में पहली बार मैंने कोहली ने खुद माना मानसिक रूप से थे परेशान

kohli

एशिया कप में एक लंबे ब्रेक के बाद पूर्व कप्तान विराट कोहली टीम मे वापसी कर रहे हैं। इससे पहले विराट कोहली ने वेस्टइंडीज और जिम्बाब्वे दौरे से अपने आप को टीम से अलग कर लिया था। करीब 45 दिन गुजरने के बाद सीधे आज पाकिस्तान के खिलाफ महामुक़ाबले मे खेलने उतरेंगे।। बीसीसीआई ने विराट से उनके आउट ऑफ फॉर्म और पिछले 22 इनिंग्स में केवल एक अर्धशतक लगा पाने मे चिंता जाहिर किया है

10 साल में पहली बार हुआ जब बैट को टच तक नहीं किया

विराट कोहली ने एक इंटरव्यू मे बताया है कि पिछले 10 सालों में उन्होंने पहली बार एक महीने तक बल्ला नहीं पकड़ा। उन्होने स्वीकार किया कि इंग्लैंड दौरे के बाद से कोहली मानसिक तौर पर थक चुका था इसलिए उन्होंने एक महीने का ब्रेक लिया ब्रेक के दौरान उन्होंने यह भी बताया कि इस एक महीने तक उन्होंने अपने बल्ले को टच तक नहीं किया । उनके क्रिकेट केरियर के पिछले 10 सालों में यह पहला अवश्र था, जब विराट कोहली ने अपना बल्ला एक महीने तक नहीं पकड़ा था। अब आज कोहली एशिया कप में बैट पकड़े दिखाई दे सकते हैं। विराट ने कहा “10 साल में पहली बार मैंने एक महीने तक अपने बल्ले को छुआ तक नहीं। मुझे एहसास हुआ कि पिछले कुछ समय से मैं झूठी ऊर्जा (आक्रामकता) दिखाने की कोशिश कर रहा था। मैं खुद को समझा रहा था कि नहीं, तुम्हारे अंदर वह ऊर्जा है, लेकिन मेरा शरीर मुझे रुकने के लिए कह रहा था। मेरा दिमाग मुझसे एक ब्रेक लेने और एक कदम पीछे जाने के लिए कह रहा था।”

पिछले एक महीने मानसिक रूप से डाउन हुए थे विराट कोहली

कोहली ने यह भी बताया किया कि उन्होंने “मानसिक रूप से डाउन” महसूस किया। मुझे यह स्वीकार करने में किसी भी प्रकार कोई शर्म नहीं है कि मैं मानसिक रूप से कमजोर महसूस कर रहा था। यह महसूस करना एक बहुत ही सामान्य बात और हम स्वीकार करने मे हिचकिचाते हैं। हम मानसिक रूप से कमजोर नहीं दिखना चाहते। “मुझे हमेशा उस इंसान के रूप में देखा गया है, जो मानसिक रूप से बहुत मजबूत होता है और मैं हूं। लेकिन, हर किसी की एक सीमा होती है और आपको वह सीमा पता होनी चाहिए। अन्यथा चीजें आपके लिए नुकसानदेह हो जाती हैं। इस दौरान मैंने बहुत सारी चीजें सीखीं, जिन्हें मैं स्वीकार नहीं करना चाह रहा था। जब वो आईं तो मैंने उन्हें स्वीकार किया।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top