जसप्रीत बुमराह ने इंग्लैंड में रचा इतिहास बैटिंग के साथ गेंदबाजी में बनाया रिकॉर्ड

bumrah

जसप्रीत बुमराह इंग्लैंड के खिलाफ एजबेस्टन टेस्ट में भारतीय टीम की कप्तानी कर रहे हैं। कप्तान के तौर पर जसप्रीत बुमराह ने इस मैच में बैट और बॉल दोनों से ही अच्छा योगदान दिया। बुमराह ने पहले बैट के साथ उन्होंने 31 रनों की शानदार पारी खेली और फिर बॉलिंग करते हुए 68 रन देकर तीन कीमती विकेट लिए।

भुवनेश्वर कुमार का आठ साल पुराना रिकॉर्ड इसके साथ ही जसप्रीत बुमराह ने तोड़ दिया। इस सीरीज में बुमराह ने अब तक 21 विकेट ले लिया हैं यह इंडिया के लिए इंग्लैंड में एक सीरीज के दौरान सबसे ज्यादा विकेट लेने का नया रिकॉर्ड हैं।

भुवनेश्वर कुमार इससे पहले साल 2014 में पांच मैचों की टेस्ट सीरीज मे 19 विकेट झटके थे। लेकिन इस इंग्लैंड दौरे पर अब जसप्रीत बुमराह एक सीरीज के दौरान सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारतीय तेज गेंदबाज हैं। इस प्रकार से बुमराह के पास एजबेस्टन टेस्ट की अभी बाकी चौथी पारी में भी विकेट लेकर अपने विकेटों की संख्या मे वृद्धि करने का मौका रहेगा।

पूरे विश्व मे भारतीय टीम आमतौर पर अपने स्पिन गेंदबाजों के लिए जानी जाती है। भारत ने स्पिनर अनिल कुंबले से लेकर रवीद्र जडेजा हरभजन सिंह और आर अश्विन तक क्रिकेट को कई शानदार स्पिन गेंदबाज दिए हैं, फिर भी इंग्लैंड में आज तक किसी भी सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रेकॉर्ड तेज गेंदबाजों का ही रहा है। ऐसा माना जाता है कि इंग्लैंड के मौसम तेज गेंदबाजों के लिए फिट होते हैं और उन्हें पिच से सहायता भी मिलती है।

इसी कारण से तेज गेंदबाजों को इंग्लैंड की पिचों पर ज्यादा गेंदबाजी करने का अवसर दिया जाता है और वो सबसे ज्यादा विकेट लेने मे सक्षम होते हैं। एक सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में इंग्लैंड में शुरुआती पांच गेंदबाज के नाम में सिर्फ एक स्पिन गेंदबाज है। केवल स्पिनर सुभाष गुप्ते इस मामले में पांचवें नंबर पर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top