यदि गेंदबाज नहीं किया होता ये गलती, तो ब्रायन लारा नहीं बना पाते रिकॉर्ड, देखें वीडियो

viral lara video

आज ही के दिन 1994 में बल्लेबाज ब्रायन लारा ने एक ऐसा रिकॉर्ड बनाया जो क्रिकेट के इतिहास में कभी नहीं हुआ। लारा ने आज ही के दिन फर्स्ट क्लास क्रिकेट में सर्वाधिक 501 रनों की पारी खेली थी। वह डरहम के खिलाफ वॉरविकशर की तरफ से खेल रहे थे। तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए लारा सिर्फ 12 रन के स्कोर पर नो-बॉल पर बोल्ड हो गए। इस नो-बॉल की कीमत ये रही की लारा ने 489 रन और ठोक दिए थे।

दुनिया के 10 सबसे कठिन गेंद देखने के लिए क्लिक करे 

क्रिकेट की दुनिया के प्रिंस के नाम से मशहूर है ब्रायन चार्ल्स लारा। वेस्ट इंडीज के बाएं हाथ के इस बल्लेबाज के ने बना रखे है बल्लेबाजी के कई रेकॉर्ड। ब्रायन लारा 90 के दशक मे गेंदबाजों के लिए खौफ हुआ करते थे।- आप किसी भी गेंदबाज को सुनें तो उनकी लिस्ट में लारा टॉप पर होंगे चाहे वो ग्लेन मैक्ग्रा, शेन वॉर्न, वसीम अकरम ही क्न्यो ना हो ।

जब तक ब्रायन लारा क्रीज पर मौजूद रहते, किसी भी विपक्षी टीम में तब तक बौखलाहट बनी रहती थी । विपक्षी टीम को हमेशा भय बना रहता था कि अकेले ही कमाल कर देगा। और 27 साल पहले आज ही के दिन (6 जून ) उन्होंने वह रेकॉर्ड बना जो क्रिकेट में हमेशा याद किया जाएगा…

इस मैच में लारा का साथ किस्मत ने भी दिया था । मात्र 12 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे तभी क्लीन बोल्ड हो गए। लेकिन वह गेंद नो-बॉल निकली । फिर इसी के बाद जब 18 रन पर पहुंचे तो विकेटकीपर ने उनका आसान सा कैच छोड़ दिया। । इस मैच मे कुल मिलाकर लारा ने कुल 427 गेंदों का सामना किया। 62 चौके लगाए और 10 छक्के जड़े।

 ब्रायन लारा टेस्ट क्रिकेट मे दो बार एक पारी में सर्वाधिक रन का बनाया रिकॉर्ड 

टेस्ट क्रिकेट में एक पारी में दो बार सर्वाधिक रन का रेकॉर्ड ब्रायन लारा के नाम रहा ।सबसे पहले अपने ही देश के सोबर्स का 365 रन का रेकॉर्ड तोड़कर 375 रन बनाए और फिर जब ऑस्ट्रेलिया के मैथ्यू हेडन ने जिम्बाब्वे के विरुद्ध 380 रन बनाकर उनके रेकॉर्ड को तोड़ा तो लारा ने 400 रन बनाकर दुबारा से वर्ल्ड रेकॉर्ड बना डाला

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top