अफगनिस्तान में चला पांड्या का जलवा, छक्का लगते ही टीवी चूमने लगा शख्स- वीडियो वायरल

अफगनिस्तान में चला पांड्या का जलवा, छक्का लगते ही टीवी चूमने लगा शख्स

दुबई अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में रविवार को भारत और पाकिस्तान की टीमें एशिया कप के लिए भिड़ी थीं . पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान ने भारत को 148 रनों का टार्गेट दिया था. पाकिस्तान की पूरी टीम 19.5 ओवर में 147 रनों पर सिमट गई. पाकिस्तान की ओर से मोहम्मद रिजवान (43) और इफ्तिखार अहमद (28) ने सबसे ज्यादा रन बनाए. गेंदबाजी करते हुए भारत की ओर से भुवनेश्वर कुमार ने चार विकेट झटके. इनका बखूबी साथ देते हुए हार्दिक पांड्या ने भी अहम तीन विकेट चटकाए, अर्शदीप सिंह ने दो और आवेश खान ने एक विकेट अपने नाम किए. टार्गेट का पीछा करने उतरे जवाब में भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही. केएल राहुल जीरो पर जल्द आउट हो गए. इसके बाद में एक धीमी पारी खेल कर रोहित शर्मा भी आउट हो गए. विराट कोहली एक आसान कैच देकर 35 रन पर आउट हो गए.बीच के ओवर ए सूर्यकुमार यादव और जडेजा को संभाला. . आखिरी ओवर में जडेजा आउट हो गए लेकिन पांड्या डटे रहे और छक्का मारकर भारत को जीत दिलाई.

मैच खत्म होने के बाद से एक अफगानी लड़के फैन का वीडियो बहुत तेजी वायरल हो रहा है, जो पाकिस्तान का भारत की जीत पर बेहद खुश है. इस वायरल वीडियो में आप देख सकते है कि एक कमरे में कुछ अफगानी लड़के बैठे हैं और टीवी पर इंडिया और पकिस्तान का मैच भी चल रहा है, तभी एक लड़का उसमे खुश होते हुए उठकर टीवी के पास आता है और टीवी स्क्रीन मे उस वक़्त दिख रहे हार्दिक पांड्या को किस कर लेता है. जश्न मनाते हुए इसके बाद वह ला जाता है. अचानक से इस लड़के की ये हरकत देखकर कमरे में मौजूद बाकी लड़क भी अपनी हंसी नहीं रोक पाते.

आपको बता दें कि एशिया कप में पाकिस्तान इंडिया से करारी शिकस्त मिलने का जश्न केवल इंडिया मे ही नहीं अफगानिस्तान में भी मनाया जा रहा है । इस वायरल वीडियो को अब तक एक लाख से से ज्यादा शेयर और लाइक्स मिल चुके हैं. यह विडियो सोशल मीडिया मे काफी पसंद भी किया जा रहा है पाकिस्तान को मिली इस करारी हार के बाद जहां भारत के विभिन्न शहरों में पटाखे फूटे और लोगों ने सड़कों पर उतरकर जश्न मनाया. वहीं पाकिस्तान में क्रिकेट फैन्स ने टीवी तोड़ डाले.

प्लेयर ऑफ़ द मैच से नवाजे गए इस मैच के हीरो रहे हार्दिक पाण्ड्या ने कहा ” मैं उसे बहुत ही बुद्धिमत्ता से प्रयोग करता हूं, वहीं बल्लेबाज़ी में मैं हमेशा शांत और स्पष्ट रहने की कोशिश करता हूं। मैं बल्लेबाज़ी करते वक़्त अधिक सोचता नहीं हूं और क्लीयर रहता हूं। मुझे पता होता है कि गेंदबाज़ी करते वक़्त गेंदबाज़ ही अधिक दबाव में होता है “

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top