“धवन वही कर रहे जो सचिन ने किया था”, दिग्गज ने शिखर और सचिन की समानता पर दिया बड़ा बयान

शिखर धवन

गुरुवार को जिम्बाब्वे के खिलाफ शिखर धवन ने पहले वनडे मैच में शानदार अर्ध शतक लगाया , इसी पारी की बदौलत भारत ने मेजबान जिम्बाब्वे टीम को 10 विकेट से मात दी । अपने शानदार प्रदर्शन के कारण यह खिलाड़ी मे अपनी जगह वन डे पक्की कर रहे हैं. इनके शानदार फॉर्म को देखकर ही पूर्व भारतीय धाकड़ बल्लेबाज अजय जडेजा का कहना हैं कि टीम इंडिया के सीनियर सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने भारतीय टीम में अच्छे प्रदर्शन करने के लिए अपने खेल में कुछ जरूरी बदलाव किए हैं. इसी के साथ उन्होंने एक नया रिकॉर्ड भी अपने नाम दर्ज किया है। वह वनडे क्रिकेट में 6000 से ज्यादा रन बनाने वाले दसवें बल्लेबाज बन गए हैं।

जिम्बाब्वे के दौरे पर ही सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने वनडे क्रिकेट में 6500 रन पूरे कर लिए हैं। वनडे क्रिकेट में अब तक उनके बल्ले से 38 अर्धशतक और 17 शतक देखने को मिले हैं। इससे पहले शिखर धवन लंबे समय से टेस्ट और टी20 टीम से बाहर हैं। वनडे क्रिकेट में हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ क्रिकेट में वापसी कर ली है। पूर्व क्रिकेटर अजय जडेजा ने शिखर धवन की महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर से तुलना करते हुए कहा है कि जब अगली पीढ़ी के क्रिकेटर टीम मे तैयार होते है तो वह आपको अगली पीढ़ी धक्का देना शुरू कर देती है।

अजय जडेजा ने एक कार्यक्रम में इस बारे में बात करते हुए कहा,‘‘आपके करियर में हमेशा ऐसे क्षण आते हैं, जब आपको खुद को दोबारा ऊर्जावान बनाना होता है और आपको अपने खेल को भी बदलना होता है क्योंकि नई पीढ़ी हमेशा तेज, फुर्तीले और स्मार्ट होते हैं और वे आपको हमेशा धकेलते हैं। इसका एक उदाहरण सचिन तेंदुलकर भी हैं। उनके बारे में सोचिए, जब टीम में युवराज सिंह, एमएस धोनी और ये सब खिलाड़ी आए थे तो उन्होंने भी अपने करियर में यही काम किया था।शिखर धवन ने अपने आप को एक नए अंदाज में पूरी दुनिया के सामने पेश किया है’’

पूर्व खिलाड़ी अजय जडेजा ने गब्बर की तारीफ करते हुए ने आगे कहा कि ,

‘‘उन्हें खुद को नए अंदाज में पेश किया। उन्होंने अपने खेल की गति को तेज किया ताकि वह युवाओं के साथ सही तालमेल बिठा सकें। आपको यह सब करना होता है। कभी-कभी बतौर सीनियर खिलाड़ी आप चीजों को आराम से लेना पसंद करते हैं क्योंकि आप उस माहौल में लंबे समय से हैं। आप एक स्थान पर टिक गए हैं। लेकिन जब नई पीढ़ी आपके साथ आती है तो तब आपको अहसास होता है कि वह आपको धकेल रही है।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top