BBL चला IPL की चाल, विदेशी खिलाड़ियों के लिए खोलेगा खजाना

bbl 2023

BBL : ऑस्ट्रेलिया की घरेलू टी20 लीग का नाम बिग बैश लीग है जो भारत के आईपीएल की तरह ही फ्रेंचाइजी बेस पर है। ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम भी बुधवार को बिग बैश लीग के में विदेशी खिलाड़ियों को खरीदने का ड्राफ्ट सिस्टम शुरू करने का निर्णय किया है । जो कि बिलकुल आईपीएल की तर्ज पर होगी। इस नए ड्राफ्ट सिस्टम में प्लेटिनम, गोल्ड, सिल्वर और ब्रॉन्ज़ कैटेगरी की व्यवस्था होंगी।

लेकिन ऑस्ट्रेलिया की तरफ से ड्राफ्ट की नयी तारीख का एलान अभी तक नहीं हुआ है, लेकिन अगले कुछ दिनो मे ड्राफ्ट की तारीख आने की उम्मीद है। इस नए सिस्टम के अनुसार हर टीम को में कम से कम 2 और ज्यादा से ज्यादा 3 खिलाड़ियों को पहले राउंड मे ही चुनना होगा।

लॉटरी सिस्टम इस ड्राफ्ट ऑर्डर को द्वारा निकाला जा सकेगा । बिग बैश लीग 2021-22 में जो टीम फाइनल मे जगह नहीं बना सकी वैसी टॉप 3 टीमों (रेनेगेड्स, हीट और स्टार्स) को पहले अपने टॉप के 3 खिलाड़ियों को सिलैक्ट करने का पहले अवसर मिलेगा। इसके अतिरिक्त 5 टीमे (स्कॉर्चर्स, सिक्सर्स, स्ट्राइकर्स, थंडर्स और हरिकेन्स) को 4 से 8 विदेशी क्रिकेटरों को चुनने की अवसर मिलेगा । वैसे तो बीएल का नया सत्र दिसंबर में शुरू होगा, जिसके लिए ‘ड्राफ्ट’ अगले कुछ दिनो मे ही तैयार किए जाने की संभावना है। ड्राफ्ट का उद्देश्य बीबीएल को अंतरराष्ट्रीय बाजार में अधिक से अधिक लोकप्रिय व प्रतिस्पर्धी बनाना है।

बता दें कि, इस ड्राफ्ट सिस्टम में कुल 4 कैटेगरी प्लेटिनम, गोल्ड, सिल्वर और ब्रॉन्ज़ होंगी। अलग-अलग खिलाड़ियों को इन 4 राउंड में नॉमिनेट किया जाएगा। इसमें प्लेटिनम ग्रुप में शामिल होने वाले खिलाड़ियों को सबसे अधिक पेमेंट मिलेगा।

bbl

बिग बैश लीग के जनरल मैनेजर डॉब्सन ने बताया , “ पिछले कुछ दिनो से हम इस पर हम कार्य कर रहे हैं, ताकि हम सर्वश्रेष्ठ विदेशी खिलाड़ियों को इस लीग के साथ जोड़ सकें। ऐसा करने से आवश्यकतानुसार प्रतिस्पर्धी बन सकेगा ।”

आपको बता दें कि, आईपीएल में भी अधिक से अधिक 4 बाहरी खिलाड़ियों को टीम अपने प्लेइंग इलेवन में खेला सकता है, इसके उलट बीबीएल में अभी तक मात्र 3 विदेशी खिलाड़ी ही प्लेइंग इलेवन में खेल सकते हैं।

नीदरलैण्ड के खिलाफ स्टंप से 20 फ़ीट दूर जाकर वाइड बाल को मारा फनी छक्का वीडियो वायरल

लेकिन बीबीएलमे टीमों को यह भी छूट प्रदान है कि वह चाहे तो अपने प्लेइंग इलेवन में कोई भी विदेशी खिलाड़ी ना भी शामिल करें। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने घरेलू लीग को विदेशों में भी टीमों को एक या दो विदेशी खिलाड़ी अब से चुनने की सलाह दी है। यह सब नया नियम विदेशी खिलाड़ियों को आकर्षित करने के लिए बनाया गया है। जिसका लक्ष्य बीबीएल को अंतरराष्ट्रीय बाजार में प्रतिस्पर्धा की दृष्टि से नए मौके भी प्रदान करना है। अब से बीबीएल मे ‘ड्राफ्ट’ नियम के अनुसार प्रत्येक टीम को कम से कम दो और अधिकतम तीन खिलाड़ियों का चयन करना ही पड़ेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back To Top